जीवन बीमा

जीवन बीमा

कार्पोरेशन बैंक अपने ग्राहकों के लिए नवीनतम नवोन्मेशन और और मूल्य परिवर्धन प्रदान करने के क्षेत्र में अग्रणी लगातार अग्रणी रहा है. बैंक अब भारत की अग्रणी बीमा कंपनियों के उत्पादों के माध्यम से आपकी सभी बीमा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अपनी शाखाओं के माध्यम से समग्र जीवन बीमा समाधान प्रदान कर रहा है.

बैंक भारतीय जीवन बीमा निगम और न्यू इंडिया एश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के लिए कारपोरेट एजेंट है.

तो, दुनिया की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम के सभी जीवन बीमा उत्पादों की श्रेणी अब कार्पोरेशन बैंक की शाखाओं के माध्यम से उपलब्ध है.  चाहे पेंशन योजना हो या सावधि बीमा, बंदोबस्ती या निवेश के प्रकार का बीमा, धन वापसी या पूंजी बाजार से सहबद्ध योजना या आजीवन उत्पाद, आपकी पसंद और जीवन चक्र की जरूरत के आधार पर उत्पादों की पूरी शृंखला आप के लिए उपलब्ध है.

भारतीय जीवन बीमा निगम के प्रीमियम का संग्रह :
कार्प ई-प्रीमियम सुविधा-हमारी सभी शाखाओं में एलआईसी नवीकरण प्रीमियम का भुगतान

बैंक द्वारा हस्ताक्षर की गई प्रीमियम की रसीद काउंटर पर तत्काल जारी की जाएगी.पॉलिसीधारक द्वारा एक से अधिक पॉलिसी के लिए भुगतान किया जाता है तो एक ही रसीद जारी की जाएगी.

रसीद आयकर अधिकारियों को मान्य और स्वीकार्य होगी. इस पर रसीदी टिकट के एवज में मुद्रांक संख्या रहेगी. एलआईसी द्वारा कोई अन्य रसीद जारी नहीं की जाएगी.

प्रीमियम सभी प्रभावी पॉलिसियों, गैर-यूलिप और गैर-वेतन बचत योजना (एसएसएस) के लिए भुगतान किया जा सकता है.

प्रीमियम का भुगतान नियत तारीख से 6 महीने पहले से लेकर पॉलिसी जीवित रहने तक किया जा सकता है.  हालांकि, तिमाही और मासिक पद्धति के तहत परिपक्वता से पहले अंतिम प्रीमियम इस विधा के माध्यम से भुगतान नहीं किया जा सकता.

कोई अतिरिक्त शुल्क बैंक द्वारा संग्रहीत नहीं किया जाएगा

कार्प एनीटाइम प्रीमियम

इस सुविधा के जरिये बैंक के सभी एटीएम / डेबिट कार्ड (कार्प कंविनीयन्स) धारक कार्पबैंक एटीएम के माध्यम से अपने एलआईसी प्रीमियम जमा कर सकते हैं. बैंक ने पहले ही अपनी इंटरनेट बैंकिंग सुविधा कार्पनेट के माध्यम से एलआईसी प्रीमियम के भुगतान को सक्षम बनाया है.

ग्राहक, जो यह सुविधा प्राप्त करने के इच्छुक हैं, बैंक की शाखाओं में बुनियादी विवरण जैसे, नाम, एलआईसी पॉलिसी संख्या, एटीएम / डेबिट कार्ड संख्या, प्रीमियम राशि और प्रीमियम भुगतान आवृत्ति का विवरण देते हुये अलग आवेदन प्रपत्र के माध्यम से पंजीकृत कर सकते हैं. कार्पबैंक एटीएम के माध्यम से, एलआईसी मासिक आवृत्ती को छोड़कर सभी आवृत्तियों पर प्रीमियम स्वीकार करता है (त्रैमासिक, छमाही या वार्षिक) .

ग्राहक जब एटीएम से लेनदेन करता है, स्क्रीन पॉलिसियों के ब्योरे प्रदर्शित करेगा और पॉलिसी धारक को भुगतान के लिए पॉलिसियों को चयन करने का विकल्प होगा. प्रणाली बैंक के पास पॉलिसी धारक के खाते से रकम डेबिट करेगी और एलआईसी को राशि हस्तांतरित करेगी.

ग्राहक एकाधिक पॉलिसियाँ रजिस्टर कर सकते हैं. हालांकि, एक बार में एटीएम स्क्रीन अधिकतम 4 पॉलिसियों को प्रदर्शित करेगा जिनके लिए प्रीमियम देय है.  ग्राहक द्वारा किसी पॉलिसी का प्रीमियम भुगतान किया जाता है तो तब यह अगले 4 (या कम) पॉलिसियों को प्रदर्शित करेगा और यह क्रम इसी प्रकार जारी रहेगा।

एलआईसी के पॉलिसी धारकों और बैंक के ग्राहकों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए अपने परिचालनों के बीच तालमेल बिठाने के लिए कार्पोरेशन बैंक ने भारतीय जीवन बीमा निगम के साथ जून 2001 में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए.   दोनों संस्थानों द्वारा हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापन के अनुसार, कार्पोरेशन बैंक अब अपने शाखा नेटवर्क के माध्यम से एलआईसी की बैंकाशुरेंश उत्पादों की बिक्री के लिए एक कारपोरेट एजेंट के रूप में कार्य करता है. बैंक ने देश भर में एलआईसी परिसर में शाखाओं, विस्तार काउंटर और एटीएम सहित 100 सेवा इकाइयों की स्थापना की है.

* बीमा आग्रह की विषय वस्तु है.
* सभी उत्पादों की प्रस्तुति भारतीय जीवन बीमा निगम के माध्यम से की जाती है.

Feedback